LYRIC

छोटा सा फ़साना
किसी को पता ना
इसे क्या सुनाना

चल पड़े हैं जो हम
अब कैसा बहाना
इसे है निभाना

ये सफ़र है नया
क्या से क्या हो गया
आगे क्या है आना

बेखबर मैं यहाँ
बेफिक्र है जहां
किसे क्या बताना
की दिल मेरा हो..
है बंजारा हो..
पर मन फिर भी हो..
ये माने ना..

खुली आँखें देखे
मंज़र नया सा है
देखो राहें पूछे
मंजिल मेरी कहा है

हो पता लापता
किसी को क्या पता
की मुझे जाना है कहाँ

इस सफ़र की वजह
है ये फ़र्ज़ या सज़ा
ये मैंने जाना है कहाँ
की दिल मेरा हो..
है बंजारा हो..
पर मन फिर भी हो..
ये माने ना..

LYRIC INFORMATION

Composer Anurag Saikia
Lyricist Akarsh Khurana
Cast Irrfan Khan | Dulquer Salmaan | Mithila Palkar
Director Anurag Saikia
Release date 3rd August, 2018

VIDEO